Advantages and Limitations of Computers | कंप्यूटर के फायदें और सीमाएँ

Advantages of Computers

Advantages and Limitations of Computers

तीव्र गति ( High Speed )  :-

  • कंप्यूटर एक बहुत तेज डिवाइस है, यह बहुत तेजी से काम करता है।
  • यह बहुत बड़ी मात्रा में डेटा की गणना करने में सक्षम है।
  • कंप्यूटर में माइक्रोसेकंड, नैनोसेकंड, और पिकोसेकंड भी, यहां तक कि गति की इकाइयां हैं।
  • यह कुछ ही सेकंड में लाखों की गणना कर सकता है अगर हम मनुष्य की तुलना करे तो एक ही कार्य को करने के लिए कई महीने खर्च करेगा।
  • एक शक्तिशाली कंप्यूटर प्रति सेकंड लगभग 3 मिलियन गणनाओं को निष्पादित करने में सक्षम है।

सटीकता ( Accuracy ) :- 

  • बहुत तेज होने के अलावा, कंप्यूटर बहुत सटीक हैं।
  • गणना 100% त्रुटि मुक्त है।
  • कंप्यूटर सभी कार्य 100% सटीकता के साथ काम करते हैं बशर्ते कि सही इनपुट हो दिया हुआ।
  • कंप्यूटर को दिया गया डाटा और निर्देश ठीक है, तो कंप्यूटर द्वारा दिए गये नतीजे भी सही होंगे।
  • वैज्ञानिक अपनी गणनाओं के लिए कंप्यूटर का इस्तेमाल करते है क्योंकि उन्हें सही और सटीक नतीजो की जरूरत होती है।

भंडारण क्षमता ( Storage Capability ) :-

  • मेमोरी कंप्यूटर की एक बहुत महत्वपूर्ण विशेषता है।
  • एक कंप्यूटर में मनुष्यों की तुलना में बहुत अधिक भंडारण क्षमता होती है।
  • यह बड़ी मात्रा में डेटा स्टोर कर सकता है।
  • यह किसी भी प्रकार के डेटा को संग्रहीत कर सकता है जैसे कि चित्र, वीडियो, पाठ, ऑडियो और कई अन्य।

परिश्रम ( Diligence ) :-

  • मनुष्य के विपरीत, एक कंप्यूटर एकरसता, थकान और कमी से मुक्त है एकाग्रता।
  • यह बिना किसी त्रुटि और बोरियत के लगातार काम कर सकता है।
  • यह एक ही गति और सटीकता के साथ बार-बार काम कर सकता है।
  • एक कंप्यूटर विचलित या आलस्य के कारण अपने कार्य को करने में कभी असफल नहीं होता है।

स्वचालन (Automation) :-

  • कंप्यूटर एक स्वचालित मशीन है।
  • स्वचालन का अर्थ है दिए गए कार्य को स्वचालित रूप से करने की क्षमता।
  • एक बार एक प्रोग्राम कंप्यूटर को दिया जाता है यानी, कंप्यूटर मेमोरी में स्टोर किया जाता है, प्रोग्राम और निर्देश मानव अंतःक्रिया के बिना कार्यक्रम के निष्पादन को नियंत्रित कर सकता है।

चंचलता (Versatility) :-

  • एक कंप्यूटर एक बहुत बहुमुखी मशीन है।
  • नौकरियों को पूरा करने के लिए एक कंप्यूटर बहुत लचीला है।
  • इस मशीन का उपयोग विभिन्न क्षेत्रों से संबंधित समस्याओं को हल करने के लिए किया जा सकता है।
  • यह एक जटिल वैज्ञानिक समस्या को हल कर सकता है और मनोरंजन के लिए भी खेल खेल सकता है।

विश्वसनीयता ( Reliability ) :-

  • एक कंप्यूटर एक विश्वसनीय मशीन है।
  • आधुनिक इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों में लंबे जीवन होते हैं।
  • कंप्यूटर को रखरखाव को आसान बनाने के लिए डिज़ाइन किया गया है।

पेपर वर्क में कमी (Reduction in Paper Work ) :-

  • किसी संगठन में डेटा प्रोसेसिंग के लिए कंप्यूटर के उपयोग में कमी आती है कागज का काम और एक प्रक्रिया को तेज करने में परिणाम।
  • इलेक्ट्रॉनिक फ़ाइलों में डेटा को आवश्यकतानुसार और जब चाहे पुनः प्राप्त किया जा सकता है बड़ी संख्या में पेपर फ़ाइलों का रखरखाव कम हो जाता है।

लागत में कमी (Reduction in Cost) :-

  • कंप्यूटर स्थापित करने के लिए प्रारंभिक निवेश अधिक है, लेकिन यह काफी हद तक है इसके प्रत्येक लेनदेन की लागत को कम करता है।

Limitations of Computers

कोई बुद्धि नहीं ( No IQ ) :-

  • कंप्यूटर एक ऐसी मशीन है जिसमें किसी भी कार्य को करने के लिए कोई बुद्धिमत्ता नहीं है।
  • प्रत्येक निर्देश कंप्यूटर को दिया जाना है।
  • एक कंप्यूटर अपने आप कोई निर्णय नहीं ले सकता है।

निर्भरता ( Dependency ) :-

  • यह उपयोगकर्ता के निर्देश के अनुसार काम करता है, इसलिए यह पूरी तरह से इंसान पर निर्भर है।

वातावरण ( Environment ) :-

  • कंप्यूटर का ऑपरेटिंग वातावरण धूल रहित और उपयुक्त होना चाहिए। जिससे कंप्यूटर ख़राब होने का संभावना भी होता है।

कोई अहसास नहीं ( No Feeling ) :-

  • कंप्यूटर में कोई अहसास या भावनाएँ नहीं होता है।
  • यह मनुष्य के विपरीत भावना, स्वाद, अनुभव और ज्ञान के आधार पर निर्णय नहीं ले सकता है।

Conclusion :- 

तो दोस्तों इस पेज में आपको Advantages and Limitations of Computers | कंप्यूटर के फायदें और सीमाएँ के बारे में बेहतर ढंग से समझाने की कोशिश किये है। मैं आशा करता हूँ की आपको Advantages and Limitations of Computers | कंप्यूटर के फायदें और सीमाएँ के बारे में अच्छे से जानकारी हो गयी होगी।

अगर आपको इसी तरह की जानकरी चाहिए तो आप हमे Comment Box में अपनी राय प्रस्तुत कर सकते है और ज्यादा जानकारी के लिए हमसे फेसबुक और टेलीग्राम में भी जुड़ सकते हैं।

Join Us –

इन्हें भी पढ़े –

Leave a Comment

%d bloggers like this: